सितारगंज: सितारगंज की संपूर्णानंद खुली जेल में कैदी की संदीग्ध मौत से हड़कंप मच गया। जेल प्रशासन इस बात का पता लगाने में जुट गया है कि कैदी की हत्या हुई है या फिर गिरने या किसी दूसरे कारण से उसती मौत हुई है। कैदी पिथौरागढ़ जिले का रहने वाला था।

जानकारी के अनुसार जीवन सिंह पिछले करीब दस साल से संपूर्णानंद जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। रोज की तरह शाम को जीवन खुली जेल में बनी झोपड़ी में चला गया। रात करीब नौ बजे मेट राकेश कुमार ने जेलर को कैदी के घायल अवस्था में पड़े होने की सूचना दी। जेलर जयंत पांगती ने जेल की एंबुलेंस से कैदी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा, जहां डॉक्टर अभिलाषा पांडेय ने उसे मृत घोषित कर दिया।

डॉ. पांडेय ने बताया कि कैदी के माथे पर गंभीर चोट लगी है और बाएं हाथ में भी सूजन है। डॉक्टर ने कोतवाली पुलिस को कैदी की मौत का मेमो भेजा है। सवाल यह है कि आखिर जेल में कैदी की मौत कैसे हो गई। इस बात की जांच की जा रही है कि कहीं वहां कैदियों के बीच कोई मारपीट तो नहीं हुई या फिर कैदी कहीं खुद ही गिर गया, जिससे उसे चोट आई।

The post उत्तराखंड : जेल में कैदी की मौत, सिर पर लगी थी चोट first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top