पिथौरागढ़ : पिथौरागढ़ में एक मामले का खुलासा हुआ. मामला भी ऐसा जिससे देख और सुन हर कोई हैरान है। दरअसल एक पिता ने बेटी के प्रेमी की हत्या के लिए दिल्ली से दो शूटर भेजे। शूटर पिथौरागढ़ पहुंचे। जैसे ही शूटर युवक पर फायर झोंकने लगे उनकी बंदूक धोखा दे गई। गोली नहीं चली और युवक बच गया। वहीं बचने के लिए शूटर मौके से फरार हो गए। वहीं पुलिस ने आऱोपियों को अलग-अलग जगह से गिरफ्तार भी कर लिया है।

दोनों की नोएडा में हुई थी मुलाकात, पिता को नगवार गुजरा बेटी का प्यार

बता दें कि मामला पिथौरागढ़ का है जहां एक पिता ने बेटी के प्रेमी की हत्या के लिए दिल्ली से उत्तराखंड सुपारी किलर भेजे। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी मिली है कि पिथौरागढ़ निवासी एक युवक को नोएडा में पढ़ाई के दौरान गुड़गांव की एक लड़की से प्यार हो गया था। पिता को बेटी का प्यार पसंद नहीं आय और पिता ने बेटी के प्रेमी की हत्या के लिए दो लोगों को सुपारी दी। दोनों युवक को मारने के लिए उत्तराखंड पहुंचे। आरोपियों ने युवक पर फायरिंग की लेकिन इत्तेफाकन लड़का बच गया। तमंते से गोली नहीं चली। जिसके बाद युवक पुलिस के पास पहुंचा। पुलिस ने मामले की जांच शुरु की।

मिली जानकारी के अनुसार जयन्त नगरकोटी पुत्र अनिल नगरकोटी निवासी ग्राम दौला थाना पिथौरागढ ने कोतवाली पिथौरागढ में तहरीर दी कि अज्ञात आरोपियनों ने उसके ऊपर तमन्चे से फायरिंग करने की कोशिश की। पिथौरागढ़ कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु की। मामले के खुलासे के लिए टीमें गठित की गई।
पूछताछ पर बताया गया कि पिछले कुछ दिन पहले राघव सिह (सज्जन कुमार) नाम का व्यक्ति उसके गांव ग्राम दौला मे कमरा ढुढने आया था और वादी से मेलजोल बढाने और घूमने फिरने के लिए कह रहा था। जिस आधार पर SOG सहित अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए गाजियाबाद, नोएडा, दिल्ली एवं फैजाबाद (अयोध्या) पुलिस टीमें रवाना की गईं और 02 दिसंबर को आरोपी सज्जन कुमार निवासी- गाजियाबाद व अभियुक्त नितिन कुमार पोसवाल निवासी- दिल्ली को क्रमशः गाजियाबाद व दिल्ली से गिरफ्तार किया गया।
बेटी की शादी के लिए पिथौरागढ़ युवक का घर देखने आए थे सुनील बेदी

पूछताछ में खुलासा हुआ कि पीड़ित जयंत की शिक्षा दीक्षा नोएडा में हुई थी, जहाँ से उसका प्रेम प्रसंग सुनील बेदी की पुत्री निवासी नरसिंहपुर गुडगाँव हरियाणा से शुरू हुआ। सुनील बेदी अपनी बेटी की शादी के लिए वादी का घर देखने पिथौरागढ आये लेकिन उन्हें जयंत का घर और रिश्ता पसन्द नही आया। उन्होंने बेटी को युवक के साथ शादी करने से इंकार कर दिया। बेटी के न मानने पर सुनील बेदी और उनके साले नितिन कुमार पोसवाल ने पीड़ित जयंत की हत्या करवा कर रास्ते से हटाने की योजना बनाई व नितिन कुमार पोसवाल ने अपने जीजा सुनील बेदी से पाँच लाख रूपये में जयंत की हत्या करने की बात कही व हत्या के लिए सज्जन कुमार व अंकित पाण्डे पुत्र हरीश कुमार पाण्डे निवासी कलाफरपुर मुआरागंज थाना रोनाई जिला फैजाबाद हाल खोडा कालौनी से ढाई लाख मे सौदा किया।

आरोपी गाजियाबाद व दिल्ली से गिरफ्तार 

19 नवंबर को हत्या करने के उद्देश्य से सज्जन कुमार व अंकित पाण्डे स्विफ्ट डिजायर से पिथौरागढ आये व 21 नवंबर को बाखली होटल के पास से दौला जाने वाले रास्ते पर लिफ्ट मांगने के बहाने जंयत की गाडी रोककर जान से मारने की नीयत से फायर किया किन्तु फायर मिस होने पर जंयत ने पुनः तमन्चा लोड करने का मौका न देते हुए तमन्चा छीन लिया व अभियुक्त मौके से भागने से सफल रहा। आरोपी सुनील बेदी और आरोपी अंकित पाण्डे की गिरफ्तारी की कोशिश की जा रही है। आरोपी सज्जन कुमार निवासी- गाजियाबाद व अभियुक्त नितिन कुमार पोसवाल निवासी- दिल्ली को क्रमशः गाजियाबाद व दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है।

The post उत्तराखंड : बेटी के प्रेमी की हत्या के लिए पिता ने दिल्ली से भेजे शूटर, फिर इसने दिया धोखा first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top