देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने हरिद्वार के लिए कोविड-19 के कारण आइसोलेट में रह रहे व्यक्तियों की माॅनिटरिंग के लिए इंटरएक्टिव वाॅइस रिस्पोंस सिस्टम (आइवीआरएस) के ट्रायल रन का शुभारम्भ किया। इस आइवीआरएस प्रणाली से आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों की माॅनिटरिंग की जाएगी। प्रणाली के माध्यम से लक्षण, टेस्टिंग और फाॅलो-अप से सम्बन्धित प्रश्न पूछे जाते हैं। उनके उत्तरों के अनुसार सभी समस्याओं के निराकरण संबंधित नोडल अधिकारियों को सूचित कर तत्काल मेडिकल सहायता उपलब्ध करायी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने आईसोलेशन में रह रहे एक व्यक्ति से फोन पर बात कर उनके स्वास्थ्य का हाल जाना और शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की। मुख्यमंत्री त्रित्रवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि कोरोना से संक्रमित व्यक्ति की माॅनिटरिंग करना तो आवश्यक है, परन्तु यह भी सुनिश्चित किया जाए कि संबंधित के अनुसार सुविधाजनक समय पर सम्पर्क किया जाए। फीडबैक लेने के दौरान आइसोलेशन में रह रहे व्यक्ति को कम से कम परेशानी हो।

मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी हरिद्वार से कहा कि हरिद्वार में मंदिरों में प्रयोग होने के बाद फूलों की अत्यधिक बर्बादी होती है। इसके लिए एक सिस्टम विकसित किया जाना चाहिए कि यह फूल उसके बाद भी प्रयोग हो सकें। इनका प्रयोग धूप व अगरबत्ती बनाने में किया जा सकता है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के समक्ष चंडीघाट में साउंड एण्ड लाईट शाॅ का भी प्रस्तुतिकरण किया गया। इसके साथ ही, जिला प्रशासन हरिद्वार की ओर से कोरोना वाॅरियर्स के लिए समर्पित वीडियो सौंग ‘‘कोटि कोटि नमन‘‘ को भी लाँच किया गया।

उन्होंने कहा कि हम सब जान रहे हैं कि कोरोना से लड़ने में हमारे कोरोना वॉरियर्स ने महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है। वह सारा जोखिम आपके लिए, मेरे लिए, हमारे लिए उठा रहे हैं। कोरोना वाॅरियर्स के लिए समर्पित यह गाना उनका हौसला बढ़ाने में सहायक होगा।इस अवसर पर मेयर देहरादून सुनील उनियाल गामा, मुख्यमंत्री के आई.टी. सलाहकार रविन्द्र दत्त पेटवाल एवं एस.एस.पी. हरिद्वार सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस. भी उपस्थित थे।

The post उत्तराखंड : IVRS से आइसोलेट लोगों पर रहेगी नजर, CM ने किया लाॅन्च first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top