केबीसी के हॉस्ट अमिताभ बच्चन की बात मध्य प्रदेश पुलिस मुख्यालय ने मान ली है। जी हां ग्वालियर में तैनात कांस्टेबल प्रीति सिकरवार का तबादला उनके पति विवेक की नियुक्ति वाले शहर मंदसौर में कर दिया गया है लेकिन फिर भी विवेक नाखुश है। बता दें कि केबीसी में विवेक ने पत्नी के अलग शहर में नौकरी करने का दुख अमिताभ बच्चन से साझा किया था जिसके बाद अमिताभ बच्चन ने एमपी सरकार से पति पत्नी का तबादला एक ही शहर में करने की अपील की थी. जिसे ग्वालिय पुलिस मुख्यालय ने तुरंत माना लेकिन इससे पति विवेश नाखुश नजर आए। वहीं विधायक ने भी सीएम को ट्वीट किया था

कांस्टेबल विवेक कुमार पत्नी के ट्रांसफर से नाखुश

दरअसल पत्नी का ट्रांसफर ग्वालियर से मंदसौर उनके साथ होने पर ट्रैफिक थाने में पोस्टेड कांस्टेबल विवेक कुमार नाखुश हैं। उनका कहना है कि उनका परिवार ग्वालियर में रहता है और उनकी मां को पैरालिसिस अटैक आया था। प्रीति के वहां रहते मां की देखभाल के साथ वो पूरे परिवार की देखभाल करती थी लेकिन अब दोनों मंदसौर में रहेंगे तो परिवार की देखभाल कौन करेगा। विवेक चाहते हैं यह आदेश निरस्त कर दिया जाए और उनकी पत्नी को वापस ग्वालियर ही ट्रांसफर कर दिया जाए।

विवेक ने जीते थे पच्चीस लाख रुपये, अपना ट्रांसफर ग्वालियर करने की इच्छा जताई थी

बता दें कि विवेक ने केबीसी में अपना ट्रांसफर ग्वालियर करने की इच्छा जताई थी ताकि दोनों पति पत्नी मिलकर परिवार संभाल सके लेकिन हुआ उसके उलटा। पुलिस मुख्यालय ने विवेक को नहीं बल्कि उनकी पत्नी का ट्रांसफर उनके पास मंदसौर में कर दिया जिससे वो नाखुश हैं और चाहते हैं कि पुलिस मुख्यालय ये आदेश वापस ले ले। बता दें कि विवेक पच्चीस लाख रुपये जीतकर कर शो से गए थे।

मंदसाैर विधायक यशपाल सिंह ने किया था ट्वीट

केबीसी से अमिताभ बच्चन की अपील के बाद मंदसाैर विधायक यशपाल सिंह सिसाैदिया ने भी इस मामले में सीएम शिवराज सिंह चाैहान काे ट्वीट किया था। जिसमें लिखा था कि मेरी विधानसभा क्षेत्र के मंदसाैर मुख्यालय पर ट्रैफिक पुलिस विभाग में पदस्थ विवेक काे केबीसी में आज अमिताभ बच्चन के साथ बैठने का गाैरव प्राप्त हाेगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चाैहान से आग्रह है कि विवेक की समस्या का समाधान करने का आदेश प्रदान करें।

The post पुलिस मुख्यालय ने मानी अमिताभ बच्चन की बात, कांस्टेबल की पत्नी का तबादला, पति नाखुश first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top