रूड़की- किसान आंदोलन ने एक बार फिर से रफ्तार पकड़ ली है। सिधू और गाजीपुर बॉर्डर में एक बार फिर से किसानों की भीड़ जुटी और आंदोलन के लिए किसान जुटे। वहीं दिल्ली सरकार ने आंदोलन को समर्थन देते हुए किसानों के लिए बॉर्डर पर पानी, टॉयलेट की व्यवस्था की। साथ ही कई संगठन किसानों को सुविधाएं देेने के लिए आगे आए। कोई चाय ब्रेड लेकर पहुंचे तो कोई लड्डू लेकर। किसी ने पानी की व्यवस्था की तो किसी ने फल सब्जी की। वहीं उत्तराखंड में भी किसान आंदोलन के लिए आवाज उठ रही है। बीते दिन रुद्रपुर में महिलाओं ने भारी संख्या में जुटकर रैली निकाली। हर कोई अपने तरीके से किसान आंदोलन को समर्थन दे रहा है। वैसे ही अलग अंदाज में उत्तराखंड कांग्रेस सेवादल ने किसान आंदोलन को समर्थन दिया। जी हां बता दें कि आज रुड़की में उत्तराखण्ड कांग्रेस सेवादल ने किसानों के समर्थन में एक दिवसीय मौन व्रत रखा।

बता दें कि आज शनिवार को महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर तहसील परिसर में जॉइंट मजिस्ट्रट कार्यालय के बाहर उत्तराखण्ड कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ता धरने पर बैठे। इस मौन व्रत में कांग्रेस सेवादल के प्रदेशाध्यक्ष राजेश रस्तोगी भी मौजूद रहे। आज शनिवार को किसानों के सम्मान में सेवादल मैदान में सेवादल कार्यकर्ताओं का मौन व्रत रखा जो की अभी भी जारी है।

The post रुड़की : उत्तराखण्ड कांग्रेस सेवादल का अगल अंदाज में किसान आंदोलन को समर्थन, रखा मौन व्रत first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top