हरिद्वार : केन्द्र सरकार की एसओपी जारी होने के बाद सीएम के बयान से अखाड़ों में हलचल पैदा हो गई है। अखाड़ा परिषद समेत कई अखाड़ें सरकार की एसओपी के खिलाफ हैं। जानकारी मिली है कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्य्क्ष नरेंद्र गिरी जल्द सभी अखाड़ो के साथ बैठक कर सकते हैं।

आपको बता दें कि बीते दिनों सीएम त्रिवेंद्र सिंह रवत ने बयान देते हुए कहा था कि हरिद्वार कहीं चीन का वुहान बन जाय ऐसा जोखिम नही लेंगे। सीएम ने कहा था कि हम हरिद्वार को वुहान नहीं बनने देंगे। एसओपी के अनुसार महाकुंभ में आने वाले सभी श्रद्धालुओं को कोरोना निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य है।। सीएम ने बयान देते हुए कहा था कि इस बार का महा कुम्भ दिव्य, भव्य और सुरक्षित होगा।

आपको बता दें कि कोविड-19 से बचाव को लेकर जारी एसओपी की सन्त समाज खुलकर न तो विरोध कर रहा है और न ही समर्थन कर रहा है। इसके साथ ही संतो को अखाड़ा परिषद की अहम बैठक का इंतजार है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद जल्द बैठक का आवाहन कर निर्णय ले सकता है। महाकुंभ को लेकर केंद सरकार द्वारा एसओपी जारी होने के बाद शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक और कुम्भ मेला अधिकारी बीते दिन गुरुवार को प्रयागराज से आये अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्य्क्ष नरेंद्र गिरी से मिलने पहुंचे थे। अखाड़ा परिषद द्वारा जल्द बैठक का आयोजन होगा जिसमे श्री महंत नरेंद्र गिरी सामूहिक बैठक के बाद फैसला लेंगे।

The post हरिद्वार महाकुंभ के लिए जारी SOP से घमासान, सीएम के बयान से अखाड़ों में हलचल first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top