चमोली : तपोवन ऋषिगंगा में आई जल प्रलय से कम से कम 206 लोग अभी भी लापता हैं। ये आंकड़ा शासन द्वारा जारी किया गया है। वहीं जानकारी मिली है कि टनल में फंसे हुए करीब 35 मजदूरों को निकालने की कोशिश जारी है। सीएम का कहना है कि उम्मीद है कि टनल में फंसे कई लोग जिंदा होंगे। वहीं खबर है कि 29 शव निकाले जा चुके हैं। बता दें कि अधिकतर शव पुरुषों के मिले हैं। जिनमें से अधिकतर मजदूर हैं जो निर्माण कार्य में लगे हुए थे। वहीं इनमें से 24 की शिनाख्त भी हो गई है। बाकी लापता लोगों की खोज जारी है। जानकारी मिली है कि सभी शव टनल से और आसपास के क्षेत्रों में नदियों के किनारे से मिले हैं। वहीं उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने आज सुबह बताया कि टनल में थोड़ा और आगे बढ़े हैं, अभी टनल खुली नहीं है। हमें उम्मीद है कि दोपहर तक टनल खुल जाएगी।

मी़डिया रिपोर्ट्स के अनुसार आज सारा मलबा साफ होने की उम्मीद है। राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र द्वारा आज जारी की गई है। रिपोर्ट के मुताबिक फिलहाल कुल 206 लोग ऋषिगंगा आपदा में लापता बताए जा रहे हैं। जिनमें से 29 शव बरामद किए जा चुके हैं। वहीं सुरंग में 25 से 35 लोग फंसे हुए बताए जा रहे हैं। जिन्हें सुरक्षित निकालने के लिए राहत-बचाव कार्य जारी है।

वहीं सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत सोमवार को तपोवन पहुंचे और आपदा ग्रस्त क्षेत्र का जायजा लिया औऱ लोगों का हालचाल जाना। वहीं मंगलवार सुबह सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत जोशीमठ पहुंचे और सुरक्षित निकाले गए लोगों का हालचाल जाना।

The post चमोली से बड़ी खबर : अब तक 29 लोगों के शव बरामद, अधिकतर पुरुषों की मौत first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top