चमोली :रविवार को चमोली में आई जल प्रलय में दो पुलिसकर्मी मारे गए जिसमे से एक कांस्टेबल औऱ एक एएसआई थी। बता दें कि एएसआई का नाम मनोज चौधरी है जो की कर्णप्रयाग नौटी के रहने वाले थे। उनकी ड्यूटी तपोवन में ही थी लेकिन उन्हें क्या पता था कि आपदा के दिन उनकी ये आखिरी ड्यूटी होगी। बता दें कि रविवार सुबह 10 बजे आई आपदा में एएसआई भी बह गए। उनका शव बुरा हालत में मिला। उन्हें अंदाजा भी नहीं था कि लोगों की रक्षा करते करते एक दिन कुदरत के कहर के कारण उनकी मौत हो जाएगी। उन्हें क्या पता था कि चमोली में आई जल प्रलय के बहाव में उनका मृत शरीर नदी में बहते बहते उन्हीं के गांव नौटी के घाट कर्णप्रयाग में पहुंच जाएगा।

वहीं तपोवन में सुरक्षा गार्द में तैनात कांस्टेबल बलवीर सिंह का शव भी बरामद हुआ है। दोनों पुलिस कर्मियों की तैनाती तपोवन सुरक्षा गार्द में थी। दोनों पुलिसकर्मियों के शव की शिनाख्त भी हो गई। बता दें कि अब तक 32 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं। जिनमे से दो की शिनाख्त हुई है। वहीं 197 लोग लापता है। टनल में घुसने के लिए रास्ता बनाया जा रहा है। जवान टनल में रास्ता बनाने की जद्दोजहद में लगे हुए हैं।

The post चमोली हादसा : गांव के कर्णप्रयाग घाट में ही मिला ASI का शव, तपोवन में थी ड्यूटी, कांस्टेबल की मौत first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top