देहरादून: दून एसएसची के निर्देश पर अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के तहत सहसपुर क्षेत्र में अवैध मादक पदार्थों की तस्करी, बिक्री और नशा करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की गई। सब इंस्पेक्टर दीपक मैठाणी, चैकी प्रभारी धर्मावाला और संभावाला चैकी प्रभारी किशन देवरानी के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई थी। टीम ने सिंघनिवाला पुल के पास तीन तस्करों के पास बैगों से 54 किलो 620 ग्राम गांजा के साथ गिरफ्तार किया गया।

उनके खिलाफ सहसपुर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। पूछताछ में बताया कि गांजा दरबंगा बिहार से रोडवेज बस और ट्रेन के माध्यम से देहरादून लाया जाता था। यहां छोटी-2 पुड़िया बनाकर रिस्पना पुल, रायपुर, पटेनगर, सहसपुर, विकासनगर और फैक्ट्री एरिया सेलाकुई में स्टूडेंट और मजदूर वर्ग को बेचते थे। ये लोग फोन के माध्यम से भी डिलीवरी देते रहे।

गिरफ्तार अभियुक्त
1.सुरेश साहनी पुत्र विजय साहनी निवासी परमहंस कॉलोनी चुखुवाला देहरादून उम्र मूल पता- ग्राम गंगोल थाना सिंगवारा जिला दरबंगा बिहार.
2.संतोष साहनी पुत्र सुरेश साहनी निवासी उपरोक्त. 3. जितेंद्र साहनी पुत्र नंदन साहनी उम्र 29 वर्ष निवासी उपरोक्त.

बरामदगी
-54 किलग्राम 620 ग्राम गांजा अवैध.
-कीमत लगभग 20 लाख रुपये.

The post उत्तराखंड : बिहार से लाया जाता था गांजा, देहरादून में इन ठिकानों पर होता था सप्लाई first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top