देहरादून : सबसे पहला सवाल है कि कौन से कानून में लिखा है कि ट्रैफिक का नियम पुलिस पब्लिक को थप्पड़ मारकर सिखाएगी। जी हां ये हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि ऐसा ही नजारा देखने को मिला पटेलनगर थाना क्षेत्र में आने वाले लाल पुल चौक पर…बता दें कि बीते दिन मंगलवार करीबन 7 बजे के आसपास चौक पर भारी भीड़ थी। तभी देखा कि एक स्कूटी चालक सड़क पर गिरा है वो भी स्कूटी के साथ। ड्यूटी पर तैनात पुलिस अधिकारी उसके पास आय़ा और एक जोरदार तमाचा युवक के मूंह पर मारा। तभी युवक ने भी दारोगा का घूर कर देखा तो दारोगा ने साइड ले जाकर एक औऱ जोर दार तमाचा युवक को मारा। युवक ने हेलमेट नहीं पहना था और ना मास्क था। मास्क दारोगा ने भी नहीं लगाया था तो पुलिस पब्लिक को क्या सिखाए। माना युवक ट्रैफिक नियम का उल्लघंन कर रहा था लेकिन कौन से किताब और कौन से कानून में लिखा है कि ट्रैफिक नियम का पालन कराने के लिए पब्लिक पर पुलिस हाथ उठा सकती है और जोरदामर थप्पड़ पब्लिक को जड़ सकती है। सवाल यही है कि क्या थप्पड़ मारकर देहरादून पुलिस ट्रैफिक नियमों का पाठ देहरादून की जनता को पढ़ाएगी वो भी भीड़ के सामने बीच चौराहे पर।

बीच सड़क पर दारोगा का युवक पर दे दना दन

मामला देहरादून के पटेलनगर थाना क्षेत्र में आने वाले लाल पुल चौक नियर इंद्रेश अस्पताल के पास का है। मंगलवार की देर शाम 7 बजे लालपुल चौक पर ट्रैफिक लाइट जली हुई थी। गाड़ियों का लाइट के इशारे पर आना जाना जारी था। तभी देखा कि बीच सड़क पर एक नौजवान स्कूटी के साथ गिरा हुआ था। शायद वो रेड लाइट में भी रुका नहीं और भागने की कोशिश की। शायद ड्यूटी पर तैनात अधिकारी यानीकी दारोगा ने उसे रोकने की कोशिश की और इसी कोशिश में युवक शायद गिर गया। पहले तो उससे दारोगा ने बात की और फिर दे देना दन थप्पड़ लगाए. साइड पर लेजाकार उसका चालाना भी काटा। अगर उस चौराहे के सीसीटीवी सही हों तो उसमे साफ देखा जा सकता है वाक्या 9 फरवरी की देर शाम 7 बजे के बाद का है।

युवक को कैसे कहते कि मास्क कहा हैं तेरा, जब खुद नहीं लगाया मास्क

युवक ने हेलमेट भी नहीं लगाया था और ना ड्यूटी पर तैनात दारोगा ने मास्क लगाया था। पब्लिक को कोविड-19 के नियमों का पाठ पढाने वाली पुलिस खुद मास्क इस्तेमाल करते नजर नहीं आ रही है। लाल पुल चौक पर तैनात पुलिस अधिकारी ने खुद भी मास्क नहीं लगाया था तो ऐसे में मौके पर गिरे युवक को कैसे कहते कि मास्क कहा हैं तेरा? फिर ड्यूटी पर तैनात दारोगा ने ड्यूटी पर तैनात महिला कांस्टेबल से चालान बुक मंगाई और चालान काटा।

क्या थप्पड़ मारकर जनता को यातायात नियमों का पाठ पढ़ाएगी देहरादून पुलिस 

सवाल ये है कि क्या बीच चौराहे पर थप्पड़ मारकर देहरादून पुलिस जनता को यातायात नियमों का पाठ पढ़ाएगी। क्या चालान काटकर और बीच चौराहे पर पब्लिक को जिल्लत देकर देहरादून पुलिस नियमों का पाठ पढ़ाएगी? ये भी जानने की इच्छा है कि कौन से कानून में लिखा है कि अगर पब्लिक ट्रैफिक नियमों का पालन न करें तो पब्लिक पर पुलिस हाथ उठा सकती है।

The post क्या थप्पड़ मारकर ट्रैफिक नियमों का पाठ पढ़ाएगी देहरादून पुलिस, दारोगा ने बीच सड़क पर युवक को दे-दना-दन first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top