देहरादून: देरादून की आॅर्डनेंस फैक्ट्री को एक नटबरलाल 18 हजार का चूना लगाकर फरार हो गया था। शिकायतकर्ता रिटायर्ड कर्मचारी इंद्रसेन भाटिया ने इसकी शिकायत पुलिस से की थी। पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला कि आरोपी उनको सरकारी योजना के नाम पर चूना लगाकर फरार हो गया था। उसे गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी का नाम अनिल कपूरी है।

वसंत विहार थाना इंस्पेक्टर देवेंद्र चैहान ने बताया कि भागीरथीपुरम जीएमएस रोड निवासी इंद्रसेन भाटिया ने शिकायत दर्ज कराई थी कि 28 जनवरी को दोपहर करीब डेढ़ बजे एक शातिर स्कूटी पर उनके घर के बाहर पहुंचा। उसने खुद को ऑर्डनेंस फैक्ट्री का कर्मचारी बताकर इंद्रसेन भाटिया को झांसे में ले लिया। उसने बताया कि बताया कि ऑर्डनेंस फैक्ट्री से सेवानिवृत कर्मचारियों के लिए सरकार की ओर से एक योजना शुरू की गई है।

इसमें पेंशनरों को दो इंडक्शन चूल्हे खरीदने पर 51 हजार रुपये का चेक दिया जा रहा है। योजना का फायदा उठाने के लिए 18 हजार रुपये, आधार कार्ड व ऑर्डनेंस का पेंशनभोगी पहचान पत्र देना होगा। चेक ऑर्डनेंस ऑफिस जाने के बाद ही मिल पाएगा। उसके झांसे में आकर इंद्रसेन भाटिया ने उसे 18 हजार रुपये, आधार कार्ड और पेंशनभोगी पहचान पत्र दे दिए।

आरोनी पैसे और दस्तावेज लेकर बिना नंबर की स्कूटी से फरार हो गया। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और पूछताछ के बाद आरोपी को हरिद्वार कनखल से गिरफ्तार कर लिया। उसकी पहचान अनिल कपूर निवासी बद्री विहार जगजीतपुर कनखल हरिद्वार के रूप में हुई है। आरोपित के पास से आधार कार्ड, पेंशनभोगी पहचानपत्र, 12 हजार रुपये और बिना नंबर की स्कूटी बरामद की गई है।

The post उत्तराखंड : पुलिस ने अनिल कपूर को किया गिरफ्तार, ये है मामला first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top