चमोली : चमोली आपदा में कई लोग बेघर हो गए। कइय़ों ने अपनों को खो दिया। टनल के अंदर रेस्क्यू जारी हैै। लगातार शव टनल से मिल रहे हैं। अभी तक 60 से ज्यादा शव मिल चुके हैं वहीं कई मानव अंग भी मिले है। टीमों का रेस्क्यू जारी है। वहीं इस बीच बड़ी खबर सोनू सूद को लेकर है। जी हां वहीं अभीनेता सोनू सूद जो कोरोना कार में गरीबों के मसीहा बन गए थे। पूरे देश में उनकी चर्चाएं हुई। कोरोना काल में उन्होंने न सिर्फ लोगों को घर पहुंचाने के लिए बस की व्यवस्था की बल्कि उनको खाना पानी के साथ सोशल मीडिया से कई बड़ी मदद की। इस बाद सोनू सूद चमोली आपदा में मारे गए आलम के परिवार के लिए सहारा बने। जी हां बता दें कि सोनू सूद ने टिहरी जिले की दोगी पट्टी के निवासी आलम की चार बेटियों को गोद लिया है। जी हां सोनू सूद ने आलम की बेटियों का जिम्मा उठाया है।

आपको जानकारी होगी कि 7 फरवरी को चमोली जिले के तपोवन इलाके में जल प्रलय आई। इस प्रलय में टिहरी के आलम का शव रेस्क्यू के दौरान मिला। कुल 204 लोग लापता हुए जिसमे से ज्यादातर तपोवन क्षेत्र में स्थापित ऋषिगंगा और विष्णुगाड जल विद्युत परियोजना में काम करने वाले थे। इनमें 61 के शव मिल गए, बाकी की तलाश जारी है। बता दें कि इसी रेस्क्यू में टिहरी जिले की दोगी पट्टी के लोयल गांव निवासी आलम सिंह पुंडीर का भी शव मिला।।

45 वर्षीय आलम सिंह विष्णुगाड जल विद्युत परियोजना से जुड़ी ऋत्विक कंपनी में इलेक्ट्रीशयन के पद पर कार्यरत थे। आपदा वाले आलम सिंह टनल के अंदर काम कर रहे थे। टनल में उनका शव मिला। आलम का शव 8 दिन बाद टनल के अंदर मिला। ये खबर सुन परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। आलम अपने पीछे अपने चार बच्चे आंचल (14), अंतरा (11), काजल (08) और 2 साल की अनन्या को छोड़ गए। उनकी जिम्मेदारी मां के कंधे पर आ गई। वहीं आलम के परिवार के लिए सोनू सूद मसीहा बनकर आए।

सूत्रों के अनुसार सिने अभिनेता सोनू सूद ने  आलम सिंह के चारों बच्चों को गोद लेकर उनकी शिक्षा-दीक्षा और शादी तक का खर्च वहन करने का आश्वासन दिया है। मुंबई में सिने अभिनेता की टीम ने चारों बच्चों को गोद लेने की पुष्टि की। इधर, ग्राम पंचायत बवाणी के पूर्व प्रधान हुकुम सिंह भंडारी ने सिने अभिनेता के मित्रों के हवाले से यह जानकारी मिलने की बात कही। हालांकि, परिवार इस बारे में कुछ भी नहीं बता पा रहा है। इस बीच, परिवार की स्थिति को देखते हुए कुछ सामाजिक संगठनों ने भी मदद का भरोसा दिया है।

The post चमोली आपदा में मारे गए आलम के परिवार के लिए मसीहा बने सोनू सूद, बच्चों के जीवनभर खर्च की उठाई जिम्मेदारी first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top