अल्मोड़ा: उत्तराखंड की प्रतिभाओं ने देश और दुनिया में नाम कमाया है। उत्तराखंड की बेटी डाॅ. प्रभा सिंह ने जर्मनी में अपनी चमक बिखेरी है। मूल रूप से चैखुटिया निवासी डाॅ. प्रभा सिंह जर्मनी के हसन स्टेट में विदेश सलाहकार समिति के प्रतिनिधि का चुनाव जीता है। प्रभा की इस कामयाबी से क्षेत्रवासी गदगद हैं। डार्म हसन स्टेट जर्मनी का एक राज्य है, जहां की आबादी करीब 1.60 लाख है।

इनमें 40 हजार लोग भारत, इटली, पुर्तगाल, पोलैंड व मोरक्को समेत अन्य देशों के हैं। विदेश सलाहकार समिति इन्हीं लोगों की एक संस्था है, जो वहां रह रहे तमाम विदेशी नागरिकों के हितों की लड़ाई लड़ती है। समिति का हर पांच वर्ष में चुनाव होता है। इस बार प्रभा ने पीएयू पार्टी की ओर से प्रतिनिधि का चुनाव लड़ा। प्रभा की प्रारंभिक शिक्षा गांव में हुई। इंटर राजकीय कन्या इंटर कॉलेज चैखुटिया से किया। बीएससी व एमएससी-बायो की शिक्षा प्रथम श्रेणी में सोबन सिंह जीना परिसर अल्मोड़ा से उत्तीर्ण की। 2010 में उन्होंने पीएचडी की उपाधि हासिल की।

2005 में सुरना पत्थरखानी अल्मोड़ा निवासी पुष्कर सिंह नेगी के संग प्रभा की शादी हुई। पढ़ाई के बाद प्रभा भी सॉफ्टवेयर इंजीनियर पति के साथ जर्मनी चली गई। पिता पूर्व सैनिक बिशन सिंह ने बताया कि प्रभा जर्मनी सरकार की ओर से शोध कार्य के लिए कनाडा व नासा में भी जा चुकी है। प्रभा के दो बच्चे हैं। प्रभा का गांव से गहरा जुड़ाव है और उसकी इच्छा है कि जर्मनी के विकास के मॉडल को यहां भी लागू कराए।

The post उत्तराखंड : देवभूमि की बेटी ने सात समंदर पार जर्मनी में जीता चुनाव, रोशन किया नाम first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top