हरिद्वार : उत्तराखंड के पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत हरिद्वार पहुंचे। जहां पूर्व में अपने दिए गए बयान का बचाव करते हुए नज़र आये। आप को बता दे की पूर्व में उनके द्वारा दिया गया बयान की हरिद्वार को चीन का वुहान शहर नहीं बनने देंगे। काफी चर्चा में रहा था जिसका संत समाज ने भी कड़ा विरोध किया था।

वहीं मुख्यमंत्री पद से हटाने के बाद आज त्रिवेंद्र भोलेनाथ की शरण में पहुंचे ,हरिहर आश्रम में पारद शिवलिंग महामृत्युंजय मंदिर में पूजा अर्चना की। इस दौरान त्रिवेंद्र सिंह रावत ने देश में और राज्य में खुशहाली की कामना की। अपने बयान का पक्ष रखते हुए उन्होंने कहा कि कुंभ मेले में कोरोना को लेकर कोई भी जोखिम लेना ठीक नहीं है। जिस तरह से देश में कोरोना वायरस के मामले फिर से बड़े हैं उस स्थिति में हम सभी की जिम्मेदारी है कि मेले में सभी व्यवस्थाएं सावधानी पूर्वक की जाएं। त्रिवेंद्र सिंह रावत ने यह भी कहा कि 7 राज्यों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं, कल की रिपोर्ट में ही देश में 25000 मामले सामने आए इसलिए कुंभ मेले में सभी व्यवस्थाएं सावधानी पूर्वक करनी होंगी। इतनी बड़ी मात्रा में कोरोना की वैक्सीनेशन करना संभव नहीं है। इसलिए हम सबकी जिम्मेदारी है कि वैक्सीन लगवाए और करोना गाइडलाइंस का पालन करें,ऐसे में  कुम्भ मेला एक राज्य नही पूरे देश और दुनिया का मेला है इसलिए कोई जोखिम नही लेना चाहिए, अपने राज्य को बचाना सबकी जिम्मेदारी है इसलिए कुम्भ मेले में ऐसी व्यवस्था होनी चाहिए जिससे ये बीमारी न फैले।

The post भोलेनाथ की शरण में पहुंचे पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत, कुंभ एसओपी को लेकर की ये बात first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top