देहरादून : कोरोना के कहर और बुरे दौर के बीच कई लोग दूसरों के ठगने का काम कर रहे हैं। अब तो कोरोना के नाम पर भी ठगी की जा रही है। ताजा मामला देहरादून के एफआरआई का है जहां एक ठग ने खुद को कारोना जांच लैब का एजेंट बताकर कई लोगों को ठगा। ठग ने 24 घंटे में 100 से अधिक लोगों को फर्जी कोविड नेगेटिव रिपोर्ट थमा जी और जमकर पैसे वसूले। वहीं इसके बाद ठग फरार हो गया। मामले का कुलासा तब हुआ जब रिपोर्ट में निगेटिव दिखाए गए एक व्यक्ति की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई।

बता दें कि मामला देहरादून के प्रसिद्ध इलाते एफआरआई का है जहां कोरोना टेस्ट के नाम पर एक फर्जी एजेंट ने भारी संख्या में अधिकारियों, कर्मचारियों और रिसर्चर के सैंपल लिए और 24 घंटे में फर्जी नेगेटिव रिपोर्ट थमा दी। दरअसल कुछ दिन पहले एक युवक ने संस्थान के एक कर्मचारी को फोन किया और खुद को एक लैब का कलेक्शन एजेंट बताकर उसका आरटीपीसीआर सैंपल लिया। इतना ही नहीं एजेंट ने 24 घंटे में नेगेटिव रिपोर्ट भी उसको दे दी। इसके बाद उसने लैब का एक लेटर हेड लेकर संस्थान को दिया और सैंपल की परमिशन ले ली। उसने 100 से ज्यादा अधिकारी, कर्मचारी और रिसर्चर के सैंपल लिए और पैसे वसूले। इसके बाद 24 घंटें में सबको फर्जी निगेटिव रिपोर्ट थमा दी। वहीं मामले का खुलासा तब हुआ जब इनमें से एक कर्मचारी की कोरोना से मौत हो गई। संस्थान अब इस कथित टैस्टिंग लैब एजेंट के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा रहा है। भारतीय वन्य जीव संस्थान के निदेशक डाॅ. धनंजय मोहन ने मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि इस व्यक्ति के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज की जा रही है।

The post देहरादून FRI में बड़ा फर्जीवाड़ा : 1 घंटे में 100 लोगों को थमाई निगेटिव रिपोर्ट, फिर कोरोना से हुई मौत first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top