देहरादून : देहरादून समेत उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले और खतरे को देखते हुए सरकार ने बाहरी राज्यों से आने वालों के लिए पंजीकरण और 72 घंटे की कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य किया है। जिसका कई लोग पालन कर रहे हैं लेकिन कई लोग चकमा देकऱ भाग जा रहे हैं। जी हां ऐसा ही कुछ हो रहा है दून के आईएसबीटी में…जहां जो लोग रोडवेज बसों से दून पहुंच रहे हैं वो जांच टीम को चकमा देकर भाग जा रहे हैं। आपको बता दें कि जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की 5 सदस्यीय टीम आईएसबीटी में लगाई गई है। लेकिन पुलिस वहां तैनात नहीं है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग की टीम एक समय में दो काम नहीं कर पा रही. या तो जांच करें या लोगों पर ध्यान दें उन्हें पकड़े।

लोग बस से उतरकर स्वास्थ्य विभाग की टीम को चकमा देकर फरार हो जा रहे हैं। निगरानी के लिए कोई पुलिसकर्मा वहां तैनात नहीं है। बाहर से आने वाले लोगों की रिपोर्ट चेक के लिए शासन द्वारा 5 सदस्य टीम तैनात की गई है।लेकिन स्वास्थ्य विभाग की टीम लोगों की जांच करें या उन पर निगरानी रखें, ये बड़ी समस्या है। बस चालकों को सभी बसें आइएसबीटी के अंदर लाने के बाद यात्रियों को उतारने को कहा गया है। गुरूवार को बसें अंदर तो आईं, लेकिन पुलिस सुरक्षा न होने पर बड़ी संख्या में यात्री चोरी-छुपे निकल गए। जो यात्री लाइन में पीछे की तरफ लगे थे, उनमें कईं यात्री बल्लियों के नीचे से निकल गए। जांच कर रही स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जिला प्रशासन से आइएसबीटी पर पुलिस बल तैनात करने की मांग की है।

The post देहरादून ISBT में स्वास्थ्य विभाग को चकमा देकर भाग रहे लोग, पुलिस नदारद, बढ़ा संक्रमण का खतरा first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top