रामनगर: रामदत्त जोशी संयुक्त चिकित्सालय को कोविड अस्पताल बनाने की कवायद तेज हो गई है. अस्पताल में जहां ऑक्सीजन पाइप लाइन बिछाने का काम शुरू हो गया है, वहीं ऑक्सीजन प्लांट बनाने का काम भी शुरू हो चुका है. इसकी जानकारी रामनगर विधायक दीवान सिंह बिष्ट ने दी.

रामनगर में एकमात्र निजी हॉस्पिटल को प्रशासन ने कोविड अस्पताल बनाया है. वहां पर भी केवल 17 बेड हैं. जिसके चलते रामनगर के कोरोना मरीजों को सुशीला तिवारी या काशीपुर जाना पड़ रहा है. वहां भी बेड न मिलने से मरीजों को इधर-उधर भटकना पड़ता है. जिसको लेकर ईटीवी भारत लगातार पीपीपी मोड पर गए रामदत्त संयुक्त चिकित्सालय को 100 बेड का कोविड हॉस्पिटल बनाने की आवाज उठाता रहा है. जिसको अब राज्य सरकार ने मंजूरी दे दी है.

रामनगर विधायक दीवान सिंह बिष्ट ने बताया कि रामनगर में लगातार संक्रमितों की संख्या बढ़ने से यहां पर एक कोविड हॉस्पिटल की जरूरत है. उन्होंने कहा कि 100 बेड के पीपीपी मोड के अस्पताल में कोविड सेंटर बनाने की मांग मुख्यमंत्री से की गई. जिसमें अब हर बेड तक ऑक्सीजन पाइप लाइन बिछाने का कार्य शुरू हो चुका है. उन्होंने बताया कि इसमें दो ऑक्सीजन प्लांट लगने हैं. जिनका कार्य भी शुरू हो चुका है.

विधायक दीवान सिंह बिष्ट ने कहा कि उन्हें ऐसा लगता है कि अगले 15 दिनों में कोविड अस्पताल रामनगर में सुचारू रूप से चालू हो जाएगा. बता दें कि, कोरोना को देखते हुए इस पीपीपी मोड पर गए अस्पताल को कोविड अस्पताल में तब्दील किया जा रहा है.

The post सीएम ने विधायक की मांग को स्वीकारा, रामनगर में 100 बेड के कोविड अस्पताल के निर्माण की तैयारी शुरू first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top