टनकपुर: कोरोना उत्तराखंड के पहाड़ी जिलों में भी कहर बरपा रहा है। जी हां ताजा मामला चंपावत के टनकपुर का है, जहां एक युवा शिक्षक की कोरोनावायरस से मौत गई है जो 3 साल पहले ही कड़ी मेहनत के बाद टीचर बने थे और 2 हफ्ते पहले ही शादी हुई थी।

जानकारी मिली है कि शिक्षक की 2 सप्ताह पहले ही शादी हुई थी. वह कोरोना से संक्रमित पाया गया था जिसके बाद उसने खटीमा के निजी अस्पताल में शिक्षक ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मूल रूप से चम्पावत जिले के श्यामलाताल निवासी 26 वर्षीय रूपलाल विश्वकर्मा 3 साल पहले ही डीएलएड परीक्षा पास कर प्राइमरी स्कूल बुंगाख्याली में शिक्षक के पद पर तैनात हुए थे। बीते 24 अप्रैल को ही रूपलाल शादी के बंधन में बंधे थे। उनकी शादी खटीमा से हुई थी।

मिली जानकारी के अनुसार शादी के तीन दिन बाद 28 अप्रैल को वह कोविड जांच में पॉजिटिव निकले जिसके बाद उन्हें खटीमा के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन शुक्रवार को उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। युवा शिक्षक की मौत के बाद परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। जानकारी मिली है कि उनका भाई भी कोरोना से संक्रमित है और उसका इलाज हल्द्वानी के सुशीला तिवारी अस्पताल में चल रहा है।

The post उत्तराखंड से बुरी खबर : कोरोना से शिक्षक की मौत, 2 सप्ताह पहले ही हुई थी शादी, 3 साल पहले बने थे टीचर first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top