गोंडा : कोरोना का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है। आलम यह है कि कोरोना से एक के बाद एक मौतें हो रही हैं। UP में कोरोना लगातार कहर बरपा रह है। दो सप्ताह में गोंडा एक ही घर से पांच अर्थियां निकलने और गांव से तीन अन्य लोगों की मौत होने से चकरौत गांव में मातमी सन्नाटा है। वहीं करनैलगंज नगर के एक वार्ड से पांच दिनों में आठ लोगों की मौत से जबरदस्त दहशत है।

चकरौत गांव व आसपास के गांवों में एक सप्ताह से करीब नौ लोगों की मौत के बाद भी स्वास्थ्य विभाग की टीम गांवों में नहीं पहुंची। न ही गांवों में सैनिटाइजेशन ही कराया गया। करनैलगंज सीएचसी के अंर्तगत ग्राम पंचायत चकरौत से बेहद दर्दनाक घटना सामने आई है। यहां कोरोना संक्रमण की वजह से एक ही परिवार के पांच लोगों की दो सप्ताह के भीतर मौत हो गई।

आस-पास के गांवों में एक सप्ताह के भीतर करीब 9 लोगों की मौत हो चुकी है। विगत दिनों मंडी समिति के लिपिक हनुमान प्रसाद श्रीवास्तव की मौत हो गई थी। उसके बाद उनकी 75 वर्षीय मां सरला श्रीवास्तव पत्नी मोतीलाल श्रीवास्तव की मौत हुई। इसी सप्ताह उनके 46 वर्षीय भाई अश्वनी श्रीवास्तव की मौत हुई। यह क्रम जारी रहा उसके बाद 45 वर्षीय उषा श्रीवास्तव की भी मौत हो गई। सबसे बड़ा दुख का पहाड़ तब टूटा जब अश्वनी के 22 वर्षीय जवान बेटे सौरभ श्रीवास्तव की भी मौत हो गई। एक सप्ताह के भीतर एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत से न्नाटा पसरा हुआ है। पूरे गांव के लोगों में दहशत बनी हुई है।

The post कोरोना का कहर : ख़त्म हो गया पूरा परिवार, गांव में 5 दिन में 8 मौतों से कोहराम first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top