चंपावत में 21 साल की नवविवाहिता की हत्या का खुलासा हुआ है बता रहे कि इस मामले में उसका पति ही उसका हत्यारा निकला। पति और सास ने मामले को दबाने और इसे खुदकुशी दिखाने की लाख कोशिश की लेकिन वह पुलिस की नजर से बच नहीं पाए। जिस बेटी को पिता ने 3 महीने पहले हंसी खुशी विदा किया था। उन्हें क्या मालूम था कि उसकी अर्थी घर से उठेगी वह भी सिर्फ 3 महीने में।

बता दें कि खेतीखान के डिंग्डवाल गांव निवासी राजेंद्र सिंह बोहरा की बेटी किरन (21) की शादी तीन महीने पहले 10 मार्च को पाटन-पाटनी क्षेत्र के जोड्या निवासी कुलदीप सिंह बिष्ट के साथ हुई थी। बीते शनिवार रात करीब 1 बजे किरन की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी। किरन की मौत को खुदकुशी दिखाने की पति और सास ने लाख कोशिश की। एक बार कहो तो पड़ोसी भी मांगे थे कि उनकी बहू ने खुदकुशी की है लेकिन किरन के पिता बार-बार कहते रहे कि उनकी बेटी की हत्या हुई है।

पुलिस ने जांच की तो पति और सास की पोल खुल गई। जांच में पता चला है कि कुलदीप शक्की और सनकी मिजाज का है। वो कई तरह का नशा भी करता है। घटना वाली रात कुलदीप और किरन पास की दुकान से सामान खरीद कर लाए थे। खाना खाने के बाद किरन ने अपनी मां को फोन कर कुशलक्षेम पूछी। इसके बाद कुलदीप की मां ऊपर वाले कमरे में सोने चली गई, जबकि नीचे वाले कमरे में पति-पत्नी के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया। झगड़ा बढ़ा तो कुलदीप ने नाक और मुंह बंद कर किरन को मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद हत्या को खुदकुशी का रूप देने की कोशिश की।

खबर है कि कुलदीप का एक घर रुद्रपुर में भी है, वहां भी उसने किसी कांड को अंजाम दिया था, लेकिन बाद में मामला रफा-दफा हो गया। अब चंपावत पुलिस इस मामले में ऊधमसिंहनगर पुलिस से भी जानकारी जुटा रही है। आरोपी पति कुलदीप सिंह बिष्ट और सास हीरा देवी जेल में हैं। दोनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 बी और 3/4 दहेज प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है।

The post चंपावत ब्रेकिंग : 21 साल की नवविवाहिता की हत्या का खुलासा, पति ने ही उतारा मौत के घाट, 3 महीने पहले हुई थी विदा first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top