चमोली : कुछ महीने पहले आई ऋषि गंगा आपदा में काम कर रहे कई मजदूरों और लोगों ने अपनी जान गंवाई। कुछ लोग तो ऐसे हैं जिनके अभी तक शव भी बरामद नहीं हुए हैं, वो लापता हैं। उनके परिजन आज भी अपनों के शव का इंतजार कर रहे हैं. लेकिन अब आस भी जवाब दे रही है। जिला प्रशासन की ओर से लापता लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र तक जारी कर दिए गए हैं और साथ ही हादसे में जान गवा चुके लोगों को जिला प्रशासन की ओर से सहातता धनराशि वितरित की गई है.

बता दें कि ऋषि गंगा की आपदा में जान गंवा चुके मजदूरों के परिजनों को चमोली जिला प्रशासन की ओर से 4.88 करोड़ की सहायता धनराशि वितरित कर दी गई है। साथ ही प्रशासन ने लापता हुए 155 लोगों में से 122 लोगों के मृत्यु प्रमाणपत्र जारी कर दिए हैं। प्रति परिवार को चार लाख रुपये की सहायता राशि वितरित की गई है।

परगना अधिकारी/एसडीएम जोशीमठ कुमकुम जोशी ने बताया कि शेष लापता लोगों के मृत्यु पंजीकरण के संबंध में उनके गृह जनपद/राज्यों को दावा/आपत्ति दर्ज किए जाने के लिए 30 दिन का समय दिया गया है। आख्या प्राप्त होते ही शेष लापता लोगों के भी मृत्यु प्रमाणपत्र जारी कर दिए जाएंगे।

The post रैणी/ऋषि गंगा आपदा में जान गंवा चुके मजदूरों के परिजनों को बांटी 4.88 करोड़ की सहायता राशि,122 लापता लोगों के मृत्यु प्रमाणपत्र जारी first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top