लालकुआं: क्षेत्र में ओवरलोड डम्पर और दुसरे लोडेड वाहन रात-दिन फर्राटा भर रहे हैं. रोजाना सैकडों की संख्या में रेता, बजरी लेकर ओवरलोड ट्रक गुजरते हैं. दिन में भी इन पर कहने के लिए तो पाबंदी है, लेकिन इनकी आवाजाही लगातार बनी रहती है. ओवरलोड वाहनों से दुर्घटना का खतरा बना रहता है.

शासन स्तर से ओवरलोड के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई के निर्देश जारी किये गए हैं. लेकिन, वाहन मलिकों कि मजबूत पकड़ के चलते प्रशासन ने ओवरलोड रेता भरे ट्रकों को फर्राटा भरने की खुली छूट दे रहे हैं. रात हो या दिन हर समय रेता बंजरी भरे ओवरलोड ट्रक सड़कों पर फर्राटा भरते हुए नजर आते हैं. ज्यादातर रेता भरे ट्रकों की संख्या सड़क पर दिखाई देती है.

लालकुआं तहसील क्षेत्र में संचालित क्रशरों से रोजाना सैकड़ों की संख्या में ओवरलोड ट्रक आवागमन करते हैं. इन पर हर समय ट्रकों का भारी-भरकम जमावड़ा लगा रहता है. 10 टायरा से लेकर 22 टायर वाले ट्रकों में ओवरलोड रेता-बजरी मनमाने तरीके से भरा जा रहा है. यही ओवरलोड ट्रक शहर से होते हुए अन्य राज्यों में को जाते हैं. खास बात यह है कि कोतवाली के ठीक सामने से ही काफी संख्या में ट्रक निकलते हैं. बावजूद कार्रवाई नहीं की जाती है.

इधर, अपर पुलिस अधीक्षक यातायात देवेंद्र पिंचा ने बताया कि ओवरलोड के खिलाफ पुलिस का अभियान निरंतर जारी है जो आगे भी जारी रहेगा उन्होंने कहा कि अगर ओवरलोड में कोई वाहन पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ ठोस कार्रवाई की जाएगी तथा ओवरलोड किसी भी रूप में बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

The post उत्तराखंड : दिन-रात फर्राटा भरते हैं ओवरलोड डंपर और ट्रक, फिर भी नहीं होती कार्रवाई first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top