देहरादून : आज शुक्रवार को कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस वार्ता आयोजित की गई। ये बैठक प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह की अध्यक्षता में प्रेस वार्ता आयोजित की गई। प्रेस वार्ता में महानगर अध्यक्ष मीडिया प्रभारी सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने राज्यपाल से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा।

इस दौरान वैक्सीनेशन को लेकर प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने केंद्र और राज्य सरकार पर साधा निशाना। कहा कि 18 से 44 आयु वर्ग के व्यक्ति की वैक्सीनेशन प्रक्रिया पर केंद्र और राज्य सरकार पूरी तरह से विफल है। निजी अस्पतालों में वैक्सीन का शुल्क ₹900 से लेकर ₹1100 वसूला जा रहा है। दूसरी लहर आने के बावजूद भी केंद्र की सरकार ने वैक्सीन का ऑर्डर जनवरी 2021 में दिया। कुल 149 करोड़ का ऑर्डर किया गया।

कांग्रेस ने कहा कि 31 मई तक केवल 21करोड़ 31 लाख लोगों को ही वैक्सीन लग पाई। प्रीतम सिंह ने कहा कि मुफ्त वैक्सीन का नारा देने वाली राज्य सरकार उसी के अनुरूप ही काम करें। आज देशभर में कांग्रेस ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस ने मांग की रोजाना 1 करोड़ वैक्सीन लगाई जाए।

कांग्रेस ने सरकार पर आरोप लगाया कि राज्य सरकार की स्वास्थ्य किट में कई खामिया है। किट में ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर ही नहीं है।  केंद्र सरकार पर वैक्सीन की निजी कम्पनीयो को फायदा पंहुचाने का आरोप लगाया। कांग्रेस ने कहा कि देश में वैक्सीन की रफ्तार कम हुई।

प्रीतम सिंह ने कहा कि देश प्रदेश को बचाना है तो वैक्सीन की अवधि को बढाना होगा। देश में लोगों के लिए वैक्सीन नहीं है। लेकिन मोदी सरकार ने अन्या देशों को वैक्सीन दी।सरकार सिर्फ अस्पतालों का निरीक्षण रही है। प्रदेश भर मे कोविड को लेकर काला बाजारी हो रही है।

प्रीतम सिंह ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार कोरोना की रोकथाम रोकने में नाकामियाब साबित हुई। कहा कि ब्लैक फंगस की रोकथाम मे भी राज्य सरकार नाकामियाब साबित हुई।

The post उत्तराखंड : वैक्सीनेशन को लेकर कांग्रेस का भाजपा पर हमला, राज्यपाल और राष्ट्रपति को सौंपा ज्ञापन first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top