नैनीताल:- उत्तराखंड में नैनीताल के प्रतिष्टित कैंची धाम मंदिर में कोविड प्रोटोकॉल के चलते बेहद सादगी से महाराज नीम करौली को भोग लगाया गया। इस दौरान भक्तों के प्रवेश पर रोक लगी रही जबकि पूजा अर्चना के बाद मंदिर के बाहर प्रशाद वितरित किया गया।

नैनीताल से 18 किलोमीटर दूर अल्मोडा मार्ग में कैंची धाम मंदिर है। मंदिर में हर वर्ष 15 जून को स्थापना दिवस के रूप में भंडारे का आयोजन किया जाता है। वर्ष 2020 से पहले हर वर्ष 15 जून को देश दुनिया के लाखों लोग महाराज को भोग लगाने के बाद प्रशाद वितरित किया जाता है।

बीते वर्ष 2020 और इस वर्ष मंदिर प्रबंधन ने कोरोना प्रोटोकॉल के चलते भक्तों के आगमन पर रोक लगा रखी है। आज मंदिर प्रबंधन ने कोविड प्रोटोकॉल के नियमों को देखते हुए सोशियल डिस्टेंसिंग और सैनेटाइजिंग के साथ साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा है । मंदिर गेट के बाहर भक्तों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए भारी पुलिस की तैनाती की गई।

मंदिर प्रबंधन ने विश्व को कोरोना मुक्त करने के लिए प्रार्थनाएं की और भक्तों को आश्वासन दिया है कि कोरोना से हालात सुधारने के बाद जल्द मंदिर को भक्तों से लिए खोला जाएगा ।

The post कैंची धाम मंदिर में भक्तों के प्रवेश पर रोक, बेहद सादगी से लगाया गया महाराज नीम करौली को भोग first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top