केवाईसी के नाम पर साइबर लोगों को ठग रहे हैं। केवाईसी को अपडेट कराने के लिए लोगों के पास कॉल, एसएमएस और ईमेल आ रहे हैं। साइबर ठगों द्वारा लोगों को कॉल, एसएमएस और ईमेल के जरिए कहा जा रहा है कि वे केवाईसी करवा लें नहीं तो बैंक खाता बंद हो जाएगा।

बीते कुछ समय में ऐसे कई मामले सामने आए हैं जिसमें ग्राहकों को केवाईसी घर बैठे केवाईसी की सुविधा के नाम पर ठग लिया गया। ठग लोगों को बैंक खाता बंद होने का डर दिखाकर डराते हैं और उनकी पर्सनल जानकारियां पा लेते हैं।

बैंक खाताधारकों को लगता है कि बैंक की तरफ से कॉल, एसएमएस या ईमेल आया है। वह इन ठगों पर भरोसा कर लेते हैं। ग्राहक साइबर ठगों द्वारा भेजे गए एसएमएस या ईमेल के साथ अटैच लिंक पर क्लिक कर देते हैं। ऐसा करने से साइबर ठग ग्राहक की सारी जानकारी चोरी कर लेते हैं।

साइबर ठग ग्राहकों को क्विक सपोर्ट मोबाइल एप्लीकेश डाउनलोड करने या फिर Anydesk या TeamViewer को डाउनलोड करने के लिए भी कहते हैं। इन्हें डाउनलोड करने के बाद आपके लैपटॉप मोबाइल या टैबलेट का एक्सेस साइबर ठगों के पास चला जाता है। यानी किसी अनजान व्यक्ति के कहने पर कोई एप डाउनलोड मत करें। वह इनके जरिए आपके ओटीपी एसएमएस पढ़ सकता है।

अगर कोई पेटीएम केवाईसी वेरिफिकेशन के नाम पर कॉल करता है या एसएमएस भेजता है, तो उस पर भरोसा न करें। कॉल या एसएमएल के जरिए कोई भी वॉलेट कंपनी या बैंक केवाईसी के लिए नहीं कहती।

The post KYC के नाम पर लोगों से ऐसे हो रही ठगी, पढ़िए खबर कहीं आप भी ना हो जाए शिकार first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top