leopard

टिहरी। टिहरी जिले के देवप्रयाग विधानसभा के अंतर्गत हिंडोलाखाल क्षेत्र में गुलदार के आतंक से ग्रामीणों में दहशत देखने को मिल रही है। 15 जुलाई को जहां दुरेगी में एक महिला पर गुलदार ने हमला किया था, जिसमें महिला घायल हो गई थी। महिला का श्रीनगर बेस अस्पताल में महिला का उपचार चल रहा है। वहीं 18 जुलाई यानी कि रविवार के दिन ग्राम छाम में 45 वर्षीय महिला को गुलदार ने अपना शिकार बनाया, जिसका शव देर रात अधखाया शव बरामद हुआ है। जानकारी मिली है कि महिला अपने दिव्यांग बेटे के साथ रहती थी।

बता दें कि गुलदार के आतंक से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। वहीं वन विभाग की टीम के खिलाफ भी ग्रामीणों में आक्रोश देखा जा रहा है, क्योंकि 1 सप्ताह पहले गुलदार के द्वारा महिला पर हमला करने के बाद भी वन विभाग के द्वारा गुलदार को पकड़ा नहीं गया, जिसकी कीमत 45 वर्षीय महिला को गुलदार के द्वारा किए गए हमले में अपनी जान गवां कर देनी पड़ी।

वहीं, आदमखोर हो चुके गुलदार को पहले तो वन विभाग को पिंजरा लगाकर पकड़ने की आदेश दिए गए थे लेकिन गुलदार को पकड़ने में नाकामी हासिल हुई है। वहीं अब वन विनाभ के द्वारा गुलदार को गोली से उड़ाने का आदेश दिया गया है। रेंजर पुंडीर ने बताया कि नरभक्षी गुलदार को मारने के लिए वन विभाग की ओर से शिकारी जॉय हुकिल, जहीर बख्शी व एस चौहान को तैनात किया गया है। रविवार सुबह हिंडोलाखाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया। क्षेत्रीय विधायक विनोद कंडारी ने मौके पर पहुंचकर पीड़ित परिवार को वन विभाग के तय मानक अंनुसार चार लाख का मुआवजा दिये की बात कही।

The post हिंडोलाखाल क्षेत्र में गुलदार का आतंक, महिला का अधखाया शव बरामद, खात्मे के लिए बुलाए गए 3 शूटर first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top