चमोली : उत्तराखंड के लिए शुक्रवार दिन की शुरुवार बुरी खबर से हुई। आज उत्तराखंड के लिए एक साथ दो बुरी खबर सामने आई। उत्तराखंड समेत देश ने एक साथ दो जवानों को खो दिया। बता दें कि उधमसिंहन नगर निवासी एक जवान को उग्रवादियों ने बंधक बना लिया था जिसका पर्थिव शरीर अब काफी दिनों बाद मिला है। वहीं चमोली मूल निवासी और वर्तमान में देहरादून निवासी बंगाल इंजीनियर में तैनात सचिन कंडवाल की सड़क हादसे में मौत हो गई। बंगाल इंजीनियर में तैनात जवान सचिन कंडवाल 26 साल के थे, जिनकी प्रयागराज से दिल्ली आते समय सड़क दुर्घटना में मौत हो गई।

जानकारी मिली है कि हाल ही में सचिन कंडवाल की सगाई हुई थी। मां पिता और घरवाले शादी का सपना संजोए थे। सब बेटे के सिर पर सहरा बांधने की तैयारियों में अभी से जुट गए थे लेकिन उन्हे क्या पता था कि वो सचिन के सिर पर कभी सहरा नहीं बांध पाएंगे। उन्हें क्या मालूम था कि सचिन तिरंगे में लिपटे आएंगे। इस खबर से परिवार समेत सचिन के गांव में शोक की लहर है।

पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत ने जताया दुख

वहीं जवान के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गहरा दुख व्यक्त किया है और सोशल मीडिया के जरिए श्रद्धांजलि अर्पित की है. पूर्व सीएम ने कहा है कि सैनी धाम उत्तराखंड अपने वीर शहीद के बलिदान को शत-शत नमन करता है। सीएम ने ईश्वर से प्रार्थना की है कि वे पुण्य आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें व शहीद के परिजनों को इस असीम दुख को सहने की शक्ति प्रदान करें। उन्होंने कहा कि सरकार सदैव शहीद के परिजनों के साथ खड़े हैं।

The post उत्तराखंड के लिए एक साथ दो बुरी खबर, चमोली के सचिन कंडवाल शहीद, प्रयागराज से दिल्ली आ रहे थे first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top