देहरादून: पूर्व सीएम हरीश रावत ने सीएम बदले जाने पर भाजपा पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि दोनों TSR त्रिवेंद्र सिंह रावत और तीरथ सिंह रावत भले आदमी हैं, लेकिन भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने दोनों को चौराहे पर लाकर छोड़ा दिया है। हरीश रावत ने कहा कि इससे बड़ा झूठ क्या हो सकता है कि कोरोना संक्रमण की वजह से उपचुनाव नहीं हो सकते और संविधानिक बाध्यता के कारण मुख्यमंत्री इस्तीफा दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सच्चाई यह है कि इसी कोरोनाकाल में सल्ट में भी उपचुनाव हुआ था। मुख्यमंत्री वहां से भी चुनाव लड़ सकते थे। कहीं और से किसी विधायक का इस्तीफा करवाकर भी चुनाव लड़ सकते थे। कानून की पूरी जानकारी न होने और मुगालते में रहने के कारण राज्य के ऊपर एक और मुख्यमंत्री थोप दिया गया। पांच साल में भाजपा तीन मुख्यमंत्री उत्तराखंड को दे रही है।

पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि भाजपा ने अपने दो नेताओं की स्थिति हास्यास्पद कर दी। दोनों ही भले आदमी हैं। त्रिवेंद्र को बजट सत्र के बीच में बदलने का निर्णय लिया गया। तीरथ सिंह की स्थिति उनके अपने बायानों ने और बचीखुची कसर भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने उनके चुनाव लड़ने के निर्णय पर फैसला ने लेने के कारण हास्यास्पद बन गई। दोनों अब मजाक के पात्र बनकर रह गए।

The post उत्तराखंड : पूर्व CM हरीश रावत बोले- बेचारे दोनों TSR भले आदमी थे, BJP ने चौराहे पर ला दिया first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top