देहरादून: पुलिस ने फरार और वांछित अपराधियों को पकड़ने के लिए अभियान चलाया है। नाबालिग से दुष्कर्म का आरोपी पिछले चार सालों से पुलिस को चकमा दे रहा था। पुलिस उसकी लगातार तलाश कर रही थी, लेकिन वो हाथ नहीं आ पाया। आरोपी ठाणे, मुंबई में नाम बदलकर रह रह रहा था। पुलिस उसे मुंबई से उठाकर ले आई।

ईनामी बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए गए हैं। इसके तहत एसएसपी ने जिले के सभी थानों की पुलिस के साथ ही एसओजी को सक्रिय किया। इस पर पटेलनगर थाना पुलिस ने 2017 से दुष्कर्म और पॉक्सो ऐक्ट के मुकदमे में फरार पांच हजार के ईनामी आरोपी मुनाजिर (26) निवासी बलवा, थाना महलगांव, जिला अररिया बिहार की जानकारी जुटाई।

12 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी को पुलिस ने 2015 में गिरफ्तार किया था। 2017 में वह जमानत पर छूटा। इसके बाद फरार हो गया। हाल में उसकी तलाश की गई। कुछ समय पहले उसके पंजाब में होने की जानकारी मिली। वहां दबिश दी तो पता लगा कि वह ठाणे मुंबई इलाके में चला गया है। वहां से आरोपी की जानकारी जुटाने की कोशिश की गई।

जानकारी जुटाने के दौरा पुलिस को पता चला कि वो ठाणे के पठानवाड़ी क्षेत्र में नाम बदलकर दिहाड़ी मजदूरी कर रहा है। इस पर पुलिस ने ठाणे में दबिश दी और उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को वहां से रिमांड पर लेकर पुलिस दून पहुंची। आरोपी ने पुलिस पूछताछ में बताया कि 2017 में फरार होने के बाद वह बिहार चला गया था। वहां पुलिस दबिश देने लगी तो, अपना नाम बदलकर अंजार रखा।

The post उत्तराखंड : चार साल से फरार था दुष्कर्म का आरोपी, पुलिस ने यहां से किया गिरफ्तार first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top