देहरादून। सत्र के पांचवे दिन की कार्यवाही की शुरुआत हंगामेदार रही। कांग्रेसी ट्रैक्टर पर गन्ने लादकर विधानसभा पहुंचे। वहीं आज कांग्रेस विधायक काजी निजामुद्दीन ने सदन में नियम 58 के तहत कोविड की वजह से हुए सरकारी स्कूलों के छात्रों की पढ़ाई का नुकसान का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के दुर्गम क्षेत्रों में कई जगहों पर छात्रों के पास फोन नहीं होने से ऑनलाइन पढ़ाई भी नहीं हुई है। कहा कि ऑनलाइन पढ़ाई के लिए शिक्षकों को ट्रेनिगं भी नहीं दी गयी। इसलिए कोविड काल में ऑनलाइन पढ़ाई के बेहतर उपायों को सरकार को अपनाना चाहिए।

गरीब परिवारों के पास खाने को पैसे नहीं एंड्रॉइड फोन कहां से लाएंगे-विधायक

विधायक ने कहा कि आरटीई के तहत गरीब छात्रों के आवेदन कम होना चिंता का विषय है। नेता उप प्रतिपक्ष करण माहरा ने भी कहा कि उत्तराखंड में गरीब परिवारों के पास कोविड की वजह से खाने के लिए कुछ नहीं है, ऐसे में ऑनलाइन पढ़ाई के लिए फोन कहां से आएगा। ऑनलाइन पढ़ाई के लिए गरीब परिवार हर माह बच्चों के लिए फोन रिचार्ज कहा से करेंगे। विधायकों ने शिक्षा विभाग को सबसे ज्यादा बज़ट दिए जाने की मांग की। कहा कि प्राइमरी में 5 कक्षाओं में 5 शिक्षक होने चाहिए। कांग्रेस विधायक ने सवाल किया कि 5 कक्षाओं की जिम्मेदारी 2 शिक्षकों के ऊपर है फिर बेहतर परिणाम की उम्मीद शिक्षकों से करते हैं।

परिवारों को सरकार दे एंड्रॉइड फोन-प्रीतम सिंह

नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि शिक्षा की दो व्यवस्थायें हैं, एक सरकार और दूसरी प्राइवेट। कोविड से सरकारी स्कूलों के छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हुई है, जिस परिवार में बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए एंड्रॉइड फोन नहीं है, उस परिवार को सरकार को एंड्रॉइड फोन देना चाहिए।

शिक्षा मंत्री ने दिया कांग्रेस विधायकों के सवालों का जवाब

कोविड 19 के समय छात्रों की पढ़ाई के नुकसान पर विपक्ष के सवालों पर शिक्षा मंत्री ने जवाब देते हुए कहा कि हमारी सरकार ने गरीबी और अमीरी के भेदभाव को दूर किया और एनसीआरटी की पुस्तकों को लागू किया। अटल उत्कृष्ट विधायक शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर करने के लिए खोले गए हैं. गरीब अभिभावकों के बेहतर पढ़ाई के सपने के लिए अटल उत्कृष्ट स्कूल खोले गए हैं।उत्तराखंड बनने के बाद पहली बार सभी स्कूलों में विषयवार अध्यापक हैं।

विपक्ष द्वारा एंड्रॉइड फोन की मांग पर शिक्षा मंत्री ने दिया जवाब

विपक्ष द्वारा एंड्रॉइड फोन की मांग पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री ने 10 और 12 के छात्रों को टैबलेट देने की बात कही है,जल्द ही छात्रों को टैबलेट प्रदान हो जाएंगे। गेस्ट शिक्षकों के मानदेय बढा़ने की जानकारी भी शिक्षा मंत्री ने सदन में दी. शिक्षा मंत्री ने कहा कि वर्चुवल क्लास के माध्यम से 71 हजार छात्रों ने ऑनलाइन पढ़ाई भी कोविड के दौरान हुई है, जिसके आंकड़े हमारे पास है। 600 और स्कूलों में वर्चुवल क्लास रूम स्थापित होंगे। मुख्यमंत्री ने अटल उत्कृष्ट में निःशुल्क शिक्षा देने की घोषणा की है। अटल उत्कृष्ट स्कूलों में सीबीएसई बोर्ड के छात्रों की फीस सरकार देगी. शिक्षा मंत्री ने कहा कि दूरदर्शन के माध्यम से ज्ञानदीप के जरिये छात्रों की पढ़ाई चल रही है. वर्क सीट के माध्यम से छात्रों की पढ़ाई हो रही है।

The post सदन में उठा शिक्षा का मुद्दा, कांग्रेस विधायक बोले- जिनके पास खाने के पैसे नहीं वो एंड्रॉइड फोन कहां से लाएंगे first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top