रामनगर : कॉर्बेट टाइगर रिजर्व में आज शुक्रवार को वन विभाग के अफसर के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। बता दें कि जिस अफसर के खिलाफ यह प्रदर्शन किया गया वह प्रदेश के वन मंत्री डॉ हरक सिंह रावत के चहेते औऱ खासमखास अधिकारी बताए जा रहे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व के मुख्यालय पर आज शुक्रवार को पर्यटन से जुड़े लोगों ने कॉर्बेट टाईगर रिजर्व के कालागढ़ रेंज में तैनात डीएफओ किशन चन्द के खिलाफ जमकर धरना प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन कालागढ़ के डीएफओ किशन चंद के खिलाफ कॉर्बेट के जंगल से अवैध रूप से बेशकीमती पेड़ों का अवैध कटान ओर अवैध निर्माण कार्य करने आरोप में प्रदर्शन किया गया है।

प्रदर्शनकारियों ने कालागढ़ के डीएफ पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ चल रही विजिलेंस जाँच की निष्पक्ष कार्यवाही की मांग की और साथ साथ ही डीएफओ किशन चंद की संपत्ति की जाँच कराए जाने की भी मांग की। लोगों ने मांग की कि डीएफओ किशन चंद को कालागढ़ रेंज से हटाया जाए। और एक्शन ना लेने पर प्रदर्शन जारी रखने की चेतावनी दी।

डीएफओ पर आरोप हैं कि वह जंगल में अवैध तरीके से पेड़ों का कटान करा रहे हैं। बताया जाता है कि उक्त अफसर प्रदेश के वन मंत्री डाॅ हरक सिंह रावत का खासमखास हैं। प्रदर्शनकारियों की माँग है कि उक्त अफसर के खिलाफ निष्पक्ष जांच कर दंडात्मक कार्रवाई की जाए। प्रदर्शनकारियों ने DFO किशोर चंद की संपत्ति की भी जांच की मांग की हैं।

The post रामनगर : वन मंत्री के खासमखास अफसर की हो संपत्ति की जांच, उठी मांग first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top