देहरादून: हाईकोर्ट की ओर से रोक हटाए जाने के बाद से अब चारधाम यात्रा कल से शुरू होगी। चारधाम यात्रा को सभी तैयारियां पहले ही पूरी हो चुकी है। परिवहन विभाग भी पहले ही सभी तैयारियों को पूरा चुका था। सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने बताया कि आज देवस्थानम बोर्ड यात्रा के लिए अलग से एसओपी जारी करेगा। हेमकुंड साहिब की यात्रा भी कल से ही शुरू होगी। यात्रा को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

यात्रा को शुरू करने की याचना करते हुए सरकार की ओर से अदालत में शपथ पत्र पेश किया गया था। महाधिवक्ता एसएन बाबुलकर ने कोर्ट को बताया उत्तराखंड के साथ-साथ देश में कोविड मामलों में कमी आयी है। सभी मंदिर, स्कूल, न्यायालय, संसद खुल चुके हैं। इसलिए चारधाम यात्रा को भी कोविड के नियमों के पालन के साथ खोलने की अनुमति दी जाय।

हेमकुंड साहिब

महाधिवक्ता ने कहा कि, चारधाम यात्रा बंद होने से लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। दूसरे पक्ष के अधिवक्ता शिव भट्ट ने कहा कि सरकार ने चारधाम यात्रा के लिए जो एसओपी जारी की है उसमें कमियां हैं। यात्रा को प्रतिबंधों के साथ खोला जाए। यात्रा मार्ग पर काम करने वाले व्यापारी, स्थानीय लोग यात्रा पर निर्भर हैं। यात्रा बंद होने से उनके सामने रोजी-रोटी का संकट पैदा हो जाता है।

दोनों पक्षों के सुनने के बाद न्यायालय ने प्रतिबंधों के साथ यात्रा शुरू करने के आदेश दिए। अदालत ने कहा है कि भविष्य में अगर कोविड केसों में बढ़ोतरी होती है और यात्रा को स्थगित करना पड़े तो इसके लिए भी व्यवस्था रखें। श्रद्धालुओं की आरटीपीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट और कम्पलीट वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट की जांच के लिए चारों धामों में चेक पोस्ट बना ली गई हैं।

श्रद्धालुओं के लिए कुंड में स्नान करने पर प्रतिबंध रहे और एंटी स्पीटिंग ऐक्ट को चारों धामों में लागू किया जाए। संबंधित जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि वे यात्रा को सफल बनाने के लिए स्थानीय लोगों एवं एनजीओ की मदद ले सकते हैं, लेकिन एनजीओ एवं स्थानीय लोग, सही एवं जिम्मेदार होने चाहिए। तीनों जिलों के विधिक सेवा प्राधिकरण को निर्देश दिए हैं कि वे यात्रा की मॉनिटरिंग करें और प्रत्येक सप्ताह इसकी रिपोर्ट कोर्ट में दें।

The post उत्तराखंड: कल से शुरू होगी चारधाम और हेमकुंड साहिब यात्रा, इन नियमों का करना होगा पालन first appeared on Khabar Uttarakhand News.





1 comments:

  1. WHAT IS HEMKUND ?

    The Bania Sikhs are Hindoo trash - and so they follow hindoo satanic rituals and customs

    The Sikhs of Blue star were the REAL SIKHS like Nalwa who fought the Mughals.BUT THEY ARE NOT INDIANS ! Indians are a landeroo race of weasels and limpdicks !

    These SIKHS were the Muslims who converted to Sikhism !

    Sikhs need to embrace Islam ! dindooohindoo

    What is the significance iof the word Allah in the Granth ? Why does it appear more often than the aggregate of all Hindoo Gods ? Is it a Quasi Islamic faith minus halal and circumcision and funeral rites ?

    But the Granth Sahib itelf says “Pray to Allah”, the word Allah comes more often, than Limpdick Rama !
    ONE UNIVERSAL CREATOR GOD. BY THE GRACE OF THE TRUE GURU:SIREE RAAG, FIRST MEHL, FIRST HOUSE, ASHTAPADEES:

    || 1 || O Baba, the Lord Allah is Inaccessible and Infinite

    ONE UNIVERSAL CREATOR GOD. BY THE GRACE OF THE TRUE GURU:SIREE RAAG, FIRST MEHL, FIRST HOUSE, ASHTAPADEES:

    || 5 || He is Allah, the Unknowable, the Inaccessible, All-powerful and Merciful Creator.

    BHAIRAO, FIFTH MEHL, FIRST HOUSE:ONE UNIVERSAL CREATOR GOD. BY THE GRACE OF THE TRUE GURU:

    || 1 || The One Lord, the Lord of the World, is my God Allah

    BIBHAAS, PRABHAATEE, THE WORD OF DEVOTEE KABEER JEE:ONE UNIVERSAL CREATOR GOD. BY THE GRACE OF THE TRUE GURU:

    || 6 || 2 || PRABHAATEE: First,Allah created the Light; then, by His Creative Power, He made all mortal beings.

    BIBHAAS, PRABHAATEE, THE WORD OF DEVOTEE KABEER JEE:ONE UNIVERSAL CREATOR GOD. BY THE GRACE OF THE TRUE GURU:

    || 3 || The Lord Allah is Unseen; He cannot be seen.

    ReplyDelete

See More

 
Top