देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पतंजलि योगपीठ फेज-2 के पतंजलि अनुसंधान संस्थान में स्वामी रामदेव और आचार्य बालकृष्ण से शिष्टाचार भेंट की। इस अवसर पर पतंजलि अनुसंधान संस्थान के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि पतंजलि ने प्राचीन भारतीय विधाओं को अनुसंधान के माध्यम से आगे बढ़ाने का कार्य किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और स्वामी रामदेव का योग को पूरी दुनिया में पहुंचाने में उल्लेखनीय योगदान है, जो हमारे लिए गौरव का विषय है।

आज योग विश्वभर में फैला है तथा बच्चा-बच्चा आज योग को जानता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सबको मिलकर उत्तराखण्ड राज्य को देश का आदर्श राज्य बनाना है। जो कोई भी उत्तराखण्ड के हित में अच्छा कार्य करेगा, वह हमारे सबसे नजदीक होगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड अनेक संभावनाओं से भरा प्रदेश है। सड़क, परिवहन, सुरक्षा, उद्यान, आदि प्रत्येक क्षेत्र की संभावनाओं पर विचार किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड देश का आदर्श राज्य बने, इसके लिए सरकार 10 वर्षीय कार्य योजना बना रही है। उन्होंने कहा कि राज्य के मुख्य सेवक के रूप में मुझे जो जिम्मेदारी दी गयी है, अपनी पूरी क्षमता से, दी गयी जिम्मेदारी के लिए एक-एक क्षण का उपयोग करूंगा।

इस अवसर पर योगगुरू स्वामी रामदेव ने कहा कि पुष्कर सिंह धामी के रूप में उत्तराखण्ड राज्य को उत्साह एवं ऊर्जा से भरे हुए मुख्यमंत्री मिले हैं। उन्होंने कहा कि पुष्कर सिंह धामी के आने के बाद चारों तरफ नया उत्साह है। पतंजलि योगपीठ का जिक्र करते हुये स्वामी रामदेव ने कहा कि कर्म और पुरूषार्थ का फल ही पतंजलि है।

मुख्यमंत्री, पुष्कर सिंह धामी, कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, यतीश्वरानन्द, सांसद राज्यसभा नरेश बंसल आदि का पतंजलि अनुसंधान संस्थान पहुंचने पर मत्रोच्चारण एवं शंख ध्वनि के बीच पुष्पगुच्छ, अंगवस्त्र  भेंटकर एवं पुष्पमाला पहनाकर  स्वामी रामदेव, आचार्य बालकृष्ण ने भव्य स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर पतंजलि अनुसंधान संस्थान स्थित पतंजलि औषधीय उद्यान में वृक्षारोपण भी किया।

The post उत्तराखंड के हित में जो अच्छा काम करेगा, वह हमारे सबसे नजदीक होगा: CM first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top