उत्तराखंड क्रिकेट टीम के कप्तान के नाम का ऐलान हो गया है। जी हां बता दें कि देहरादून निवासी कुनाल चंदेला को टीम की कप्तानी सौंपी गई है। कुनाल को आगामी घरेलू सत्र के लिए सभी प्रारूपों का कप्तान नियुक्त किया गया है। आपको बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी उत्तराखंड के खिलाड़ी को ये जिम्मेदारी मिली है।

आपको बता दें कि इससे पहले उत्तराखंड क्रिकेट टीम के तीन कप्तान रह चुके हैं। बता दें कि 2017-18 सत्र में रजत भाटिया, इसके बाद 2018-19 सत्र के लिए उन्मुक्त चंद और 2019-20 सत्र के लिए इकबाल अब्दुल्ला को कप्तान बनाया गया था। मगर अब्दुल्ला की कप्तानी में टीम ने सैयद मुश्ताक अली टी-20 ट्राफी में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया। इसलिए विजय हजारे ट्रॉफी में कुनाल चंदेला को कप्तान बनाया गया था।

आपको बता दें कि कुनाल चंदेला ने बेहतर प्रदर्शन किया था। विजय हज़ारे ट्रॉफी में कुनाल ने दिल्ली के खिलाफ 62 रन, अरुणांचल के खिलाफ 78 रन, मिजोरम के खिलाफ 58 रन और मेघालय के खिलाफ 55 रन बनाए थे। इसके बाद सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में कुनाल ने बड़ौदा के खिलाफ 25 गेंदों में 48 रन, महाराष्ट्र के खिलाफ नाबाद 18 और छत्तीसगढ़ के खिलाफ 25 रनों की पारी खेली थी। अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए कुनाल को बड़ी जिम्मेदारी दी है। इस सत्र के लिए सीएयू ने कुणाल को सभी प्रारूपों का कप्तान नियुक्त किया है।

बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी गेस्ट प्लेयर को कप्तान ना बनाकर सीएयू ने उत्तराखंड के ही निवासी को टीम की कप्तानी सौंपी है। कुनाल चंदेला भी इसे लेकर काफी उत्साहित हैं। कुनाल ने कहा कि उनकी प्राथमिकता टीम को साथ लेकर चलने की है। टीम के सभी खिलाड़ियों के साथ समन्वय बनाकर जीत दिलाने के लिए इरादे से मैदान पर उतरेंगे।गौरतलब है कि कुनाल चंदेला उत्तराखंड से पहले दिल्ली की घरेलू टीम से खेलते थे। कुनाल चंदेला ने अबतक घरेलू क्रिकेट में दो शतक और चार फिफ्टी भी जमाई हैं। कुनाल की बल्लेबाजी से भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर भी काफी खुश रहते थे। इसलिए उन्होंने दिल्ली की तरफ से भी काफी क्रिकेट खेला है।

The post पहली बार उत्तराखंड के किसी खिलाड़ी को मिली ये बड़ी जिम्मेदारी, गौतम गंभीर भी फैन first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top