देहरादून : उत्तराखंड में सड़क हादसों का लगातार बढ़ता जा रहा है। लोगों से ट्रैफिक नियमों का पाठ पढ़ाने का जिम्मा अब रावण को सौंप दिया गया है। जी हां घबराइये नहीं, बता दें कि अब लोगों को यातायात नियमों का पाठ रावण पढ़ाएगा। उत्तराखंड में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने और उनका ग्राफ कम करने के लिए उत्तराख्ण्ड पुलिस ने रावणों को सड़क पर उतारा है जो एक हफ्ते तक लोगों को लोगों को यातायात का पाठ पढ़ायेगें। यह रावण कोई और नहीं बल्कि नाटक के वे पात्र हैं तो चौराहों पर लोगों को यातयात नियमों का पाठ पढ़ा रहे हैं।

आपको बता दें कि इसकी शुरुआत देहरादून से हुई। मंडी चौक पर भी पुलिसकर्मियों के साथ रावण दिखा जो लोगों में चर्चाओं का विषय बना हुआ है। बता दें कि 30 सेकेंड के नाटक में कलाकार लोगों को 10 तरह के उल्लंघन छोड़ने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। देहरादून से आरंभ हुए इस तरह के कार्यक्रम देहरादून के अलावा ऋषिकेश, हरिद्वार और रुड़की शहरों में 7 दिनों तक चलेंगे।

10 सिर वाले दशानंद (रावण) के मुखौटे पर 10 यतायात नियमों के उल्लंघन से संबंधित 10 स्लोगन लिखें गये हैं। 30 सैकेंड की सूक्ष्य नाट्य प्रस्तुति के द्वारा यातायात की 10 बुरी आदतों को छोड़ने के लिए प्रतिज्ञा कराई जाएगी। रावण की प्रस्तुति देहरादून में दिलाराम चौक, कारगी चौक, निरंजनपुर मंडी चौक, रिस्पना पुल, बल्लूपुर चौक, घंटाघर, नटराज चौक (ऋषिकेश), रानीपुर मोड़ (हरिद्वार), ऋषिकुल तिराहा (हरिद्वार), पटियाला चौक (रुड़की) एसडीएम चौक (रुड़की) में होगी। जिनमें हेलमेट न पहनना, रेड लाइट जम्प करना, वाहन चलाते मोबाइल का प्रयोग, दोपहिया वाहन में तीन सवारी, बायें से ओवरटेक, नशे में वाहन चलाना, खतरनाक/रैश ड्राइविंग, सीट बेल्ट न पहनना, नो पार्किंग में वाहन खड़ा करना, जेब्रा क्रॉसिंग का उल्लंघन आदि पर फोकस होगा।

The post पुलिस ने लिया 'रावण' का सहारा, लोगों को पढ़ाएंगे ट्रैफिक नियमों का पाठ first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top