देहरादून : देशभर समेत उत्तराखंड में भी दशहरा पर्व धूमधाम से मनाया गया। राजधानी देहरादून से लेकर प्रदेश के सभी जिलों में दशहरा मेला आयोजित किया गया। इस दौरान रावण के पुतले दहन किए गए। साथ ही कुंभकरण और मेघनाथ के पुतलों को भी आग के हवाले किया गया।

वहीं, राजधानी देहरादून में भी कई जगहों पर दशहरा पर्व पर रावण के पुतले दहन हुए। हिंदू इंटरनेशनल स्कूल में लाइटिंग के जरिए रावण दहन हुआ। यह नजारा देखकर लोग रोमांचित हो उठे। इस कार्यक्रम में सीएम धामी भी बतौर मुख्य अतिथि शामिल रहे। रावण का वद्ध होते ही चारों ओर शंख ध्वनि गूंज उठी।

धू-धू कर रावण और मेघनाथ के पुतले जल उठे। रावण दहन देखने पहुंचे लोगों ने एक-दूसरे को दशहरे की शुभकामनाएं दी। आतिशबाजी देखकर दर्शक रोमांचित हो उठे।

देहरादून में पहली बार लाइटिंग के स्पेशल इफेक्ट से रावण दहन किया गया। लक्ष्मण चौक वेलफेयर सोसाइटी की ओर से हिंदू नेशनल इंटर कॉलेज के मैदान में में 55 फीट ऊंचे रावण का दहन किया गया।

सांस्कृतिक कार्यक्रम में दून के बच्चों के साथ ही दिल्ली, मुंबई के कलाकारों ने मनमोहक प्रस्तुति दी। पहली बार स्पेशल इफेक्ट के साथ रावण दहन किया गया, जो आकर्षण का केंद्र रहा। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बतौर मुख्य अतिथि और सोसाइटी के संरक्षक व राज्यसभा सांसद नरेश बंसल ने शिरकत की।

The post उत्तराखंड : भगवान राम ने मारा तीर, धू-धू कर जल उठा रावण first appeared on Khabar Uttarakhand News.





1 comments:

  1. PEOPLE SAY - Y WAS RAMA A LIMPET LIMODICK IT IS ALL - The "Curse of the Kingdom" of "King Ikshvaku" (bitter Cucumber)

    The "Entire Dubious history" of the "Dindoo Hindooo Bindoo,Jains and the Booodheests starts "with this impotent deviant "King Ikshvaku"(literally means "bitter cucumber) who was the "Son of Manu".dindooohindoo

    The Limpet was based "where else, but in Awadh",along the banks of river Sarayu with Saketa, which is Ayodhya today, as their capital.(Sounds Familiar!)

    This is the "Dubious Suryavansa (the Solar dynasty)", which "bred the following vermin" :

    Lord "Limpdick Rama"
    The "Entire Sakya Dynasty" (including Boodha!)
    "22 out of the 24 clown" Jain Teerthankars
    Execution of "Manusmriti"

    The Limpet King "had 4 sons" whom he "sent to exile", and who "copulated with and married their own sisters", to produce the "Divine Sakya Dynasty" !

    The reason Y the vermin king "kicked out his 4 sons" - is just like the "story of Gay Pansy Rama" !

    As per "Ambattha-sutta of the Theravada Digha-Nikaya" (Long Discourses)

    “Out of fear of the mixing of castes "they cohabited (sa—vasa) together with their own sisters" ?

    Hence,Boodha,Jain Teerthankars and the Dindo Bindoo Hindoo Limpdick Rama are "born from the seeds of incest" !

    Wonderbar !

    Y has Dindooism,Jainism and Boodheesm "been doomed in Dindoosthan" and Y was it "raped and pillaged" by the Huns, Mughals, Mongols, Turks, Chinese ?

    All in the History !

    It is time to erase Rama !

    ReplyDelete

See More

 
Top