मनी लांड्रिंग मामले में 12 घंटे की पूछताछ के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को गिरफ्तार कर लिया गया है। बता दें कि अनिल देशमुख सोमवार को अपने वकील के साथ दिन में ही 11:50 बजे प्रवर्तन निदेशालय के समक्ष  पहुंचे और उनसे आधी रात के बाद तक पूछताछ की. देशमुख के वकील इंद्रपाल सिंह ने कहा कि हमने मामले से जुड़े मामले की जांच में सहयोग किया। आज कोर्ट में जब उन्हें पेश किया जाएगा तब हम उनके रिमांड का विरोध करेंगे।

बता दें कि मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह द्वारा देशमुख के विरुद्ध पुलिस अधिकारियों के माध्यम से 100 करोड़ रुपये हर महीने वसूली की शिकायत किए जाने के बाद बांबे हाई कोर्ट ने उनके विरुद्ध सीबीआइ जांच के निर्देश दिए थे। यह आदेश आने के बाद ही सीबीआइ ने देशमुख के विरुद्ध प्राथमिक जांच शुरू कर दी थी और उन्हें महाराष्ट्र के गृह मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

ईडी अब तक 5 बार देशमुख को पूछताछ के लिए हाजिर होने का समन भेज चुकी है। पिछले सप्ताह बांबे हाई कोर्ट ने उनको राहत देने से इन्कार कर दिया था। सोमवार को ईडी के सामने पेश होने से पहले देशमुख ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो और पत्र जारी करके कहा कि हालांकि उच्च न्यायालय ने मुझे संवैधानिक अधिकार के तहत विशेष अदालत में जाने की स्वतंत्रता दी है। लेकिन फिर भी मैं आज ईडी कार्यालय जाऊंगा और जांच में सहयोग करूंगा।

The post महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख गिरफ्तार, 12 घंटे सवालों से घिरे रहे थे first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top