रुड़की: रुड़की क्षेत्र में खनन माफिया बेखौफ हैं। इतने बेखौफ कि उनको कानून का भी डर नहीं हैं। गंगनहर से खनन कर रहे माफियाओं को रोकने पहुंचे आईआरबी के जवानों को खनन माफियाओं ने दौड़ा-दौड़ा कर भगा दिया। इतना ही नहीं, उनके साथ मारपीट भी गई। मजबूरत आईआरबी जवानों को हवाई फायर करना पड़ा, जिसके बाद माफिया फरार हो गए। आईआरबी जवान की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात खनन माफिया के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

यह मामले एक दिन पहले का बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार आईआरबी में तैनात कांस्टेबल अर्जुन सिंह रावत ने पुलिस को तहरीर दी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि खनन रोकथाम के लिए चार आईआरबी के जवानों कांस्टेबल अर्जुन सिंह, दीपक भंडारी, राजकुमार कुकरेती और सेक्शन इंचार्ज, एससीपी सुनील गैरोला की ड्यूटी मोहम्मदपुर झाल स्थित सकौती घाट पर लगाई गई है। शुक्रवार की सुबह करीब सात बजे वह अपने साथियों के साथ गश्त कर रहे थे। इस दौरान सकौती घाट पर उन्हें कुछ खनन माफिया गंगनहर से खनन करते हुए दिखाई दिए।

जवानों ने मौके पर पहुंचकर ट्रैक्टर ट्रॉली और भैंसा बुग्गी को गंगनहर से बाहर निकालने और खनन बंद करने को कहा। इससे खनन माफिया भड़क गए और आईआरबी जवानों से गाली गलौज और धक्का-मुक्की शुरू कर दी। वे फावड़े और लाठी-डंडे लेकर उनके पीछे भागने लगे और उन्हें दौड़ाते हुए मारपीट शुरू कर दी। पुलिस को मामले की जानकारी देने पर बाइक पर सवार होकर दो अज्ञात व्यक्ति आए और वहां मौजूद खनन माफिया को भड़काते हुए फिर से उनके साथ गाली गलौज व मारपीट करने लगे।

खुद को खनन माफिया के बीच घिरा देख आईआरबी के जवानों ने हवा में फायर कर दिया। फायर की आवाज सुनते ही खनन माफिया अपनी एक बाइक को मौके पर ही छोड़कर फरार होने में कामयाब हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने बाइक को कब्जे में लेने के साथ ही खनन माफिया का पीछा भी किया।

लेकिन, वह भागने में कामयाब हो गए। पुलिस ने आईआरबी जवान की तहरीर पर 20-25 अज्ञात खनन माफिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया है। कोतवाली प्रभारी प्रवीण कोश्यारी ने बताया कि आईआरबी के जवानों के साथ मारपीट करने वाले खनन माफिया की तलाश की जा रही है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

The post उत्तराखंड: बेखौफ खनन माफिया, जवानों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, करनी पड़ी हवाई फायरिंग first appeared on Khabar Uttarakhand News.





1 comments:

  1. What mines are there in Roorkee !

    Solution is to use TNT !

    Gadwali Babas are weasels ! Dehradun is full of limpet limpdick weasels !

    Jats, Rajputs, Sikhs .. and Nepali Sons of whores ! The Rajputs sold their randis to the Mughals and ran off from Akbar ! Jats are a bandit race of bastards - which is a matter of scientific truth.The Sikhs of Dehradun are the Sikhs of Ram Rai who betrayed Sikhism and his father and who disowned by his father and Sikhism !

    In short,liars,cheaters and thieves and LIMPDICK COWARDS !

    Look at the Genetics of the Gadwalis and Indians - with the skin of mongrels, limpdicks, weasels, limpets with no muscular or tensile strength.

    They could not scare a rat or fight a cockroach !

    Look at the bogus Indian Cricket team - look at Jasprit Bumrah ! Does he look like a human ? Similarly,the Uttarakhandis are weasels - if they had the DNA of the Kashmiri mujahideen - they would have wiped out the UKD Police

    Look at the Gadwalis in Defense Colony Dehradun - like the Mongrel skinned midget hobbit limpets like Karthik Rawat and his family and the other Gadwalis and other Jats,Sikhs and Rajput trash.They have to be exterminated ! dindooohindoo

    ReplyDelete

See More

 
Top