देहरादून: आमतौर पर सर्दी का मौसम फरवरी के अंत तक पूरी तरह समाप्त हो जाता है। मार्च शुरू होती ही गर्मी का ऐहसास होने लगता है और होली आते-आते गर्मी पूरी तरह जोर पकड़ चुकी होती है। लेकिन, अगले इस बार कुछ बदलाव नजर आ सकते हैं। सर्दियों का औसत समय बढ़ सकता है। इससे मामना जा रहा है कि 2022 की होली में ढंड बरकरार रह सकती है।

वैज्ञानिकों का अनुमान है कि सर्दी के दिनों में 20 से 30 दिनों तक का इजाफा हो सकता है। इसका असर देश के सभी हिमालयी राज्यों या क्षेत्रों में देखने को मिल सकता है। यह भी माना जा रहा है कि अन्य सालों के मुकाबले इस साल पहले से अधिक कड़ाके की ठंड पड़ सकती है। आर्य भट्ट प्रेक्षण विज्ञान एवं शोध संस्थान (एरीज) के मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार इस बार ठंड 90 से 100 दिनों के बजाय 120 से 125 हो सकती है।

वैज्ञानिकों के अनुसार 15 दिसंबर के बाद पारा तेजी से नीचे जाएगा। साथ ही सर्दियां अगले वर्ष 15 मार्च तक रहने का अनुमान है। एरीज में वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक डॉ. नरेंद्र सिंह ने कहा, इस वर्ष 20 से 25 दिन अधिक ठंड रहने का अनुमान है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो पिछले कुछ वर्षों से पश्चिमी विक्षोभ के चलते ठंड में न्यूनतम तापमान लगातार बढ़ा है। यही कारण है कि ठंडे इलाकों में भी शून्य डिग्री तापमान मुश्किल से पहुंचता है। लेकिन, इस बार तापमान में तेजी से गिरावट आने की संभावनाएं अधिक नजर आ रही हैं।

The post उत्तराखंड: ...तो इस बार मार्च में भी होगी सर्दी, वैज्ञानिकों ने लगाया ये अनुमान first appeared on Khabar Uttarakhand News.





0 comments:

Post a Comment

See More

 
Top